• Thursday November 21, 2019

Bhagalpur

Bihar · India
follow 3 followers
Write a news/views or… एक खबर लिखें/विचार प्रस्तुत करें या …

A women and her daughter were raped by two of their tenant in Champaran. A case has been registered against the two and the matter is being investigated. Both the men were of 30 years of age and threatened to release the video of the act if they registered the case to police. The case is now being investigated by the SP. source: News 18

  • (0) Authenticate
  • (0)Fake
  • (0)Opinion
भागलपुर. जिले में 21 घंटे के अंदर चमकी बुखार से चार बच्चों की मौत हो गई। तीन बच्चों का इलाज मेडिकल कॉलेज अस्पताल में चल रहा था, जबकि चौथे ने अस्पताल पहुंचने से पहले ही दम तोड़ दिया। मरने वालों में तीन लड़कियां व एक लड़का शामिल है।रंगरा साधोपुर के अखिलेश शर्मा की ढाई साल की बेटी शिवानी कुमारी को मंगलवार की सुबह चार बजे चमकी बुखार की शिकायत पर अस्पताल में भर्ती कराया गया था। बुधवार की दोपहर 1.30 बजे उसकी मौत हो गई। सबौर की 10 वर्षीय प्रीति कुमारी की मौत मंगलवार की रात 10 बजे इलाज के दौरान हो गई।बिहपुर के बभनगामा के कीरो सिंह के पांच साल के पुत्र रमण कुमार की मौत भी बुधवार शाम 4:45 बजे हो गई। बड़ी खंजरपुर कोइरी टोला की रहने वाली ढाई वर्षीय अनु कुमारी पुत्री टिंकू मंडल इन दिनों अपनी नानी के घर तारापुर में रह रही थी। बुधवार दोपहर दो बजे उसे चमकी बुखार आया। परिजन उसे लेकर शाम साढ़े सात बजे मायागंज अस्पातल पहुंचे। जहां पर डॉक्टरों ने बच्ची को मृत घोषित कर दिया।मायागंज अस्पताल में 37 बेड रिजर्वअस्पताल अधीक्षक डॉ. आरसी मंडल ने बताया कि बच्चों की मौत के बाद चमकी के मरीजों के लिए 37 बेड रिजर्व रखे गए हैं। इस बीमारी को देखते हुए आईसीयू के पीकू वार्ड में 8, एसएनसीयू में 12, गायनी के पेइंग वार्ड में 12 व गायनी के आईसीयू में 5 बेड रिजर्व रखा गया है। सीआईडी की टीम ने अस्पताल प्रबंधन से मामले की पूरी जानकारी ली है। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today यह तस्वीर उस वक्त की है जब रमण को मायागंज अस्पताल में भर्ती कराया गया था। शाम को इलाज के दौरान उसने दम तोड़ दिया। ... read more @ Dainik Bhaskar
  • (0) Authenticate
  • (0)Fake
  • (0)Opinion
श्रावणी मेले में आने वाले कांवरियों को भी जलसंकट से न जूझना पड़े, इसलिए ब्लाक कैंपस में 12 अदद नल युक्त एक प्याऊ का निर्माण कार्य कराया जा रहा है।जिससे कांवरियों को 24 घंटे पेयजल आपूर्ति मिल सकेगी। बीडीओ प्रभात रंजन ने बताया कि उक्त प्याऊ का निर्माण गहराते जलसंकट को ध्यान में रखकर कराया जा रहा है। ब्लाक कैंपस में मेले के मद्देनजर वाहन पार्किंग स्थल पूर्व में बनाया जाता रहा है। काफी संख्या में रोड मार्ग से कांवरिये वाहन लेकर यहां आते है। जिन्हें पानी के लिए चापाकल पर निर्भर रहना पड़ता था। कैंपस के अंदर लगे चापाकल से पानी निकलना बंद हो गया है। प्रखंड मुख्यालय परिसर में निर्माणाधीन प्याऊ। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Sultanganj News - construction of drinking water to be done in block campus to get the farmers to relieve water congestion ... read more @ Dainik Bhaskar
  • (0) Authenticate
  • (0)Fake
  • (0)Opinion
सुल्तानगंज | रविवार को राष्ट्रीय स्वयंसेवक ने अजगैबीनाथ मंदिर गंगा घाट पर प्रांत शाखा के बाद गंगा सफाई अभियान चलाया गया। इस उपलक्ष्य पर लोगों ने गंगा घाट पर फैले कूड़े कचरे को साफ किया। साथ ही हर महीने सफाई अभियान चलाकर गंगा घाट को साफ करने का संकल्प लिया। मौके पर बलराम, डॉ. मुकेश, जयराम विप्लव, गौतम सिन्हा, कुमार श्रावण, सत्यम, सन्नी, संजय कुमार चौधरी, नवीन कुमार बन्नी, प्रवीण मिश्रा आदिं स्वयंसेवक मौजूद थे। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Sultanganj News - cleanliness drive to ganga ghat in ajgabeennath ... read more @ Dainik Bhaskar
  • (0) Authenticate
  • (0)Fake
  • (0)Opinion
भागलपुर. जवाहरलाल नेहरू मेडिकल कॉलेज अस्पताल के ब्लड बैंक में प्रोसेसिंग फीस में मची लूट पर आखिरकार विभाग ने मंगलवार को लगाम लगा ही दिया। ब्लड बैंक के जिम्मेदार स्टेट ब्लड ट्रांसफ्यजन काउंसिल (एसबीटीसी) की बजाय नेशनल ब्लड ट्रांसफ्यूजन काउंसिल (एनबीटीसी) की गाइडलाइन का हवाला देकर 1050 रुपए मरीजों से लूट रहे थे।दैनिक भास्कर के लगातार सवाल पूछने पर मनमर्जी नियम बता रहे थे। ब्लड डोनेशन करने वाली संस्थाओं को भी कटघरे में ला खड़ा किया था। यहां तक कि नोटिस तक थमाए गए, लेकिन परत-दर-परत खुली पोल के बाद एसबीटीसी और ड्रग कंट्रोलर ने माना कि ब्लड बैंक गलत कर रहा है। एसबीटीसी ने मरीजों को राहत देते हुए ब्लड बैंक को नया आदेश जारी किया है। इस आदेश के अनुसार, अब ब्लड बैंक को एनबीटीसी नहीं, बल्कि एसबीटीसी की गाइडलाइन माननी होगी।मरीजों से प्रति यूनिट ब्लड के लिए 1050 नहीं, बल्कि 500 रुपए लेने होंगे। अस्पताल अधीक्षक डॉ. आरसी मंडल ने कहा है कि तीन मई से नई फीस लागू हो जाएगी। मंगलवार को पटना में एसबीटीएस डायरेक्टर अभय प्रसाद और ड्रग कंट्रोलर रविंद्र कुमार सिन्हा ने बैठक की। इस बैठक में फोन पर जवाहरलाल नेहरू मेडिकल कॉलेज अस्पताल के अधीक्षक डॉ. आरसी मंडल से बात की। उनसे पूछा कि किस आधार पर भागलपुर में ब्लड बैंक से मरीजों से 1050 रुपए वसूले जा रहे हैं।दोनों अफसरों ने अधीक्षक से यह भी पूछा कि पूरे प्रदेश के ब्लड बैंक में यह राशि महज 500 रुपए है। ऐसे में भागलपुर में ज्यादा क्यों? इसके जवाब में अधीक्षक डॉ. मंडल ने एनबीटीसी की गाइडलाइन का हवाला दिया। उन्होंने यह भी कहा कि सभी पैसे सरकारी खाते में जमा किए गए हैं। इस पर एसबीटीसी डायरेक्टर अभय प्रसाद ने दो टूक कहा कि ऐसा करना गलत है। एसबीटीसी ने प्रोसेसिंग फीस की दरें तय की हैं। पूरे प्रदेश में यह लागू करें। भागलपुर में भी यही दरें लागू रहेंगी।तुरंत टाइप किए गए पत्र आदेश अधीक्षक को भेजाड्रग कंट्रोलर सिन्हा ने बताया, अधीक्षक डॉ. मंडल को न सिर्फ तत्काल आदेश दिए गए, बल्कि आदेश की कॉपी भी टाइप कर ली गई। यह आदेश तुरंत अधीक्षक को भेज दिया गया है। ड्रग कंट्रोलर के अनुसार, इस आदेश में यह भी कहा गया है कि अब तक जिन मरीजों से ज्यादा पैसे लिए गए, उन्हें भी लौटाएं। जो मरीज 1050 रुपए का पर्चा लेकर आ रहे हों, उन्हें तुरंत पैसा वापस दें, बाकी मरीजों को ढूंढ़कर पैसे लौटाएं।लूट के लिए 9 दिनों से बहाने बना रहे थे अफसरसुप्रीम कोर्ट की गाइडलाइन के बाद बनी एनबीटीसी और एसबीटीसी के बाद भी भागलपुर में ब्लड बैंक प्रभारी डॉ. रेखा झा, अधीक्षक डॉ. आरसी मंडल, बिहार स्टेट एड्स कंट्रोल सोसाइटी के डिप्टी डायरेक्टर डॉ. एनके गुप्ता बहानेबाजी कर रहे थे। 21 अप्रैल से लगातार भास्कर अपनी खबरों के जरिए जिम्मेदारों से सवाल पूछ रहा था तो सभी मरीजों से हो रही 550 रुपए की लूट को वैध बताने के लिए नियमों का हवाला दे रहे थे।भास्कर ने पूछे सवाल तो उल्टे समझाया मीडिया का दायित्वअस्पताल प्रबंधन से जब खून के इस खेल पर भास्कर ने सवाल पूछा तो प्रबंधन ने अखबार को एक पत्र भेजा। पत्र में लिखा कि रक्त किस मरीज को बिना डोनर कार्ड के देना है, यह अधिकार सिर्फ उपचार करने वाले डॉक्टर को है, न कि मीडिया को या रक्तदान शिविर आयोजित करने वाली संस्था को। अधीक्षक ने दैनिक भास्कर की खबर को बगैर किसी साक्ष्य का बताया और कहा कि इससे अस्पताल प्रबंधन व सरकार की छवि धूमिल हुई है। खबरों को गैरप्रमाणिक बताते हुए उन्होंने इसे अखबार की प्रतिष्ठा को चोट पहुंचाने वाला बताया। यहां यह बताना जरूरी है कि सवाल पूछने पर अस्पताल अधीक्षक डॉ. आरसी मंडल ने साफ कह दिया कि वे भास्कर से इस बारे में कोई बात नहीं करेंगे।भास्कर ने कहा, ये आमजन का मामला है। हम सवाल भी पूछेंगे और जवाब भी लेकर आएंगे। ब्लड बैंक प्रभारी डॉ. रेखा झा ने अपने मोबाइल में भास्कर रिपोर्टर के नंबर तक ब्लॉक लिस्ट में डाल दिए। लैंडलाइन से फोन लगाने पर भास्कर का नाम सुनते ही फोन काट दिया। बिहार स्टेट एड्स कंट्रोल सोसाइटी के उप निदेशक ने भी कार्रवाई करने की बजाय गोलमोल बातें कीं। उन्होंने फोन तक उठाना बंद कर दिया।आरटीआई एक्टिविस्ट अजीत कुमार सिंह कल करेंगे पीआईएलब्लड बैंक में हुई घोर अनियमितता पर आरटीआई एक्टिविस्ट अजीत कुमार सिंह पीआईएल दायर करेंगे। उनका कहना है कि इतने लम्बे समय से गड़बड़ी चल रही थी। इसकी जांच कमीशन से करवाने और दोषियों को सजा दिलाने के लिए पीआईएल होगी। साथ ही ब्लड बैंक में प्लाज्मा की बिक्री में भी नियम विरूद्ध की गई है। इसपर भी ब्लड बैंक प्रबंधन को कोर्ट में खड़ा करेंगे। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today rein on plunder in blood bank bhagalpur ... read more @ Dainik Bhaskar
  • (0) Authenticate
  • (0)Fake
  • (0)Opinion
कांग्रेस के स्टार प्रचारक और पंजाब सरकार में मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने बिहार के कटिहार में एक सभा को संबोधित करते हुए विवादित बयान दिया। उन्होंने कहा कि मुस्लिम अगर इकट्ठे होकर वोट डाले तो मोदी निपट जाएंगे। सिद्धू ने आरोप लगाया कि भाजपा ओवैसी जैसे लोगों को यहां लाकर मुस्लिमों का वोट बांट रही है। उन्होंने कहा कि अल्पसंख्यक होकर भी यहां पर मुसलमान बहुसंख्यक हैं। मुस्लिम एकजुट होकर तारिक को वोट देंगे तो उन्हें कोई नहीं हरा सकता है।... read more
  • (0) Authenticate
  • (0)Fake
  • (0)Opinion
18 अप्रैल को भागलपुर में होने वाले लोकसभा चुनाव के दौरान नक्सली संगठन भाकपा माओवादी बड़ा हमला कर सकता है। संगठन के निशाने पर 5 थाना, 43 बूथ और आठ स्कूल हैं। खुफिया रिपोर्ट के आधार पर स्पेशल ब्रांच ने भागलपुर के आईजी, डीआईजी व एसएसपी को पत्र लिख कर अलर्ट जारी किया है और विशेष सतर्कता का सुझाव दिया है। कहा गया है कि चुनाव के दौरान जिले में माओवादियों के सक्रिय होने की सूचना मिली है। नक्सली बाथ, शाहकुंड, सजौर, पीरपैंती, ईशीपुर-बाराहा... read more
  • (0) Authenticate
  • (0)Fake
  • (0)Opinion

Loading posts...
End
∅ Error while loading more posts!
Success !
Success !
Or