• Thursday November 21, 2019
  • Barabanki, Uttar Pradesh, India
  • Location on Globe (26.995506,81.2518833)

Barabanki

Uttar Pradesh · India
follow 2 followers
Write a news/views or… एक खबर लिखें/विचार प्रस्तुत करें या …
बाराबंकी. जिले में मंगलवार रात को एक निजी बस नेबोलेरो की जोरदार टक्कर मार दी। हादसे में बोलेरो सवार एक नवजात शिशु समेत चार लोगों की मौत हो गई। इस हादसे में गंभीर रूप से घायल आठ लोगों को पुलिस की मदद से लखनऊ के ट्रामा सेंटर भेजा गया। जहां उनका उपचार चल रहा है। पुलिस के अनुसार घटना निंदूरा क्षेत्र के बडूडूपुर थानाक्षेत्र के बाबा कुटी के पास हुई। दरअसल, महमूदाबाद सीतापुर की तरफ से लागों को महाराजगंज ले जा रही बस की लखनऊ से महमूदाबाद की ओर जा रही बोलेरो से टक्कर हो गई। घटना में बोलेरो सवार एक नवजात शिशु की मौके पर मौत हो गई, जबकि बाकी गंभीर रूप से घायल हुए।आननफानन में एंबुलेंस की मदद से घायलों को बाराबंकी के सीएचसी ले लाया गया। जहां डॉक्‍टरों ने चार लोगों को मृत घोषित कर दिया। वहीं, आठ की हालत गंभीर देख लखनऊ के ट्रामा सेंटर रेफर कर दिया। सभी घायल व मृतक सीतापुर जिले के निवासी हैं।... read more @ Dainik Bhaskar
  • (0) Authenticate
  • (0)Fake
  • (0)Opinion
बाराबंकी. अधिकारियों के साथ मीटिंग में बाराबंकी के जिलाधिकारी डॉ. आदर्श सिंह का गुस्सा फूट पड़ा। उन्होंने भरी सभा में मंच से ही सारे अधिकारियों और कर्मचारियों को जमकर लताड़ लगाई। कहा- आजकल जिले में इस तरह की बातें हो रही हैं कि डीएम को चढ़ावा चढ़ाने के लिए चंदा इकट्ठा किया जाएगा। उन्होंने दो टूक शब्दों में कहा कि जिस अधिकारी या कर्मचारी को अपना काम ईमानदारी और मेहनत से करने में रुचि नहीं हैं, वह रिटायरमेंट या ट्रांसफर ले ले। क्योंकि जब तक मैं इस जिले में हूं, सभी को केवल और केवल ईमानदारी और मेहनत से सरकार की योजनाएं आम जनमानस तक पहुंचानी हैं। इसके अलावा मेरी आप लोगों से कोई और अपेक्षा नहीं है।ये भी पढ़ेंअवमानना मामले में हाईकोर्ट ने अमेठी के डीएम को लगाई फटकार, लिखित माफी मांगने पर मिली राहतडीएम ने कहा- मैं सार्वजनिक रूप से ऐलान कर रहा हूं कि जिसने भी रिश्वत लेने की इस तरह की हरकत की है, वह अगले तीन दिन के अंदर मुझे लिखित रूप में जानकारी दे दे। नहीं तो मैं अपने सूत्रों से जांच करवाकर संबंधित के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई करूंगा।मीटिंग के बाद जब जिलाधिकारी डॉ आदर्श सिंह से बात की गई तो उन्होंने बताया कि उन्हें शिकायत मिली है कि जिले के कुछ अधिकारी और कर्मचारी मेरे नाम पर रिश्वत ले रहे हैं। डीएम ने कहा कि प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार की भ्रष्टाचार पर जीरो टॉलरेंस है। इसलिए जांच के बाद जो भी नाम सामने आएंगे, उनके खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी। मैंने जिले के सभी अधिकारियों और कर्मचारियों को साफ हिदायत दी है कि वह ऐसी कोई भी हरकत भविष्य में न करें और अगर किसी ने ऐसी हरकत की है तो वह लिखित जानकारी मुझे दे दें।... read more @ Dainik Bhaskar
  • (0) Authenticate
  • (0)Fake
  • (0)Opinion
बाराबंकी. जिले में तैनात दो होमगार्ड प्रेम सिंह व सूर्यलाल यादव को अपनी मूंछों से बेहद प्यार है। प्रेम सिंह बीते 21 सालों से अपनी मूंछों पर ताव फेरते आ रहे हैं, तो वहीं सूर्य लाल यादव ने अपनी मूंछों पर कभी कैंची तक नहीं लगवाई। डीजीपी ने दोनों होमगार्डों को पुरस्कृत करने का ऐलान किया है। अब दोनों को एक हजार रुपए प्रतिमाह मूंछों की देखभाल के लिए दिया जाएगा। ये भी पढ़ेंहोमगार्ड ड्यूटी में फर्जीवाड़े को लेकर एक्शन में सरकार, मंत्री चेतन चौहान ने कहा- दोषियों को बक्शा नहीं जाएगाफिल्म शराबी का मशहूर डायलॉग'मूंछे हो तो नत्थू लाल जैसी' सबने सुना होगा,लेकिन बाराबंकी में इन दिनों मूंछे हो तो प्रेम सिंह व सूर्यलाल जैसी सुना जा रहा है।इससे दोनों होमगार्डों की खुशी का ठिकाना नहीं है।पत्नी ने बढ़ाया हौसलाहोमगार्ड प्रेम व सूर्य लाल नगर कोतवाली में तैनात हैं। होमगार्ड प्रेम सिंह ने कहा कि, उन्होंने 1998 में मूंछे रखने का निर्णय लिया था। वे कहते हैं- शुरूआत में लोग बेवजह परेशान के लिए टिप्पणी करते थे। परेशान होकर एक दिन पत्नी से पूछ लिया कि तुम्हें कोई परेशानी तो नहीं। पत्नी ने जवाब दिया कि, कोई परेशानी नहीं है। जब साथ चलती हूं तो लगता है कि, किसी मर्द के साथ चल रही हूं। तब से प्रेम सिंह ने मूंछे बढ़ाने का फैसला कर दिया।जीवन में तीन बार लगा ब्लेडहोमगार्ड सूर्य लाल यादव ने कहा- जब से उनके मूंछे आईं, उन्होंने अब तक सिर्फ तीन बार कटवाया है। माता-पिता व भाई की मृत्यु होने पर मुंडन संस्कार करवाया गया था, तभी मूंछे कटी थीं। उसके बाद आज तक कभी नहीं कटवाई। अब इन्ही लम्बी बड़ी मूंछों ने उन्हें एक अलग पहचान दी है।... read more @ Dainik Bhaskar
  • (0) Authenticate
  • (0)Fake
  • (0)Opinion
बारांबकी. मंगलवार को देवा मेला का ऑडीटोरियम विख्यात लोकगायिका पद्मश्री मालिनी अवस्थी के अवधी और पारंपरिक गीतों के सुरों से गूंजा। कार्यक्रम में मालिनी अवस्थी ने भजन, लोकगीत, भोजपुरी गीत, छठ गीत और सोहर की प्रस्तुति से श्रोताओं को मंत्रमुग्ध कर दिया। कार्यक्रम की शुरुआत उन्होंने सूफी गीत 'मोको कहां ढूंढ़े रे बंदे, मैं तो तेरे पास रे' से की। अवधी संस्कृति से जुड़े गीत भी गाएउन्होंने अपनी खनकती आवाज में राम जन्म के समय के गीत 'मचल रहीं आज महलन मा दाई' पेश किया, जिस पर लोग झूम उठे। उन्होंने सुहाग गीत 'सिया रानी का अटल सुहाग रहे, राजा राम के सिर पर ताज रहे' गाकर लोगों को मुग्ध कर दिया। इसके बाद सेहरा गीत 'राम पहिरे फूलन को सेहरा' गाकर अवध की संस्कृति से परिचय कराया।पारम्परिक गीतों से बांधा समांमालिनी ने अपने सुप्रसिद्ध गीत 'रेलिया बैरन पिया को लिए जाय रे', 'अवध मा धूम मची, घर लौटे हैं रमैया'गीत गाकर लोगों को तालियां बजाकर झूमने पर मजबूर कर दिया। मालिनी ने अनेक पारंपरिक गीतों को एक के बाद एक प्रस्तुत कर समां बांधा। 'अरे जनकपुर में हर्ष अपार, सिया को जन्म भयो', 'बन्ना बुलाए बन्नी नहीं आए'जैसे अवधी के कई पारंपरिक गीतों की भी प्रस्तुति दी।मालिनी अवस्थी को सुनने के लिए काफी संख्या में श्रोता मौजूद रहे। गीत-संगीत का सिलसिला देर रात तक चलता रहा। कार्यक्रम का शुभारंभ एडीएम संदीप गुप्ता ने दीप प्रज्वलित कर किया। मेला समिति के सदस्य राय स्वरेश्वर बली, फवाद किदवई सहित काफी श्रोता मौजूद रहे।... read more @ Dainik Bhaskar
  • (0) Authenticate
  • (0)Fake
  • (0)Opinion
बाराबंकी. छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने गुरुवार को जैदपुर विधानसभा उपचुनाव में कांग्रेस प्रत्याशी तनुज पुनिया के पक्ष में प्रचार किया। इस दौरान बघेल ने योगी सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि सरकार ने उप्र में किसानों के साथ कर्जमाफी के नाम पर धोखा किया है। हालत यह है कि सरकार के रवैये की वजह से आज किसान रातभर जागकर अपने खेतों की रखवाली करने के लिए मजबूर है।एक जनसभा को संबोधित करते हुएभूपेश बघेल ने कहा कि हमने छत्तीसगढ़ में किसानों के जो भी वादा किया था, उसे पूरा किया। लेकिन उत्तर प्रदेश में सरकार ने किसानों के साथ धोखा किया। खुद को देश का चौकीदार कहने वाले लोगों ने किसानों को उनके खेतों का चौकीदार बना दिया।किसान रातभर जागकर खेतों की रखवाली करता हैबघेल ने कहा कि उत्तर प्रदेश के सारे किसान छुट्टा जानवरों से परेशान होकर रातभर जागकर अपने खेतों की रखवाली करते हैं। भाजपा छत्तीसगढ़ में पंद्रह सालों में जो नहीं कर पाई वह हमने किया है। लेकिन उत्तर प्रदेश में किसानों का कर्ज माफ करने के नाम पर उनके साथ धोखा हुआ है। प्रदेश के सारे किसान परेशान हैं. किसानों को उनकी फसलों का सही दाम नहीं मिल रहा।कांग्रेस शासित राज्यों में मंदी का कोई असर नहीं पड़ेगाभूपेश बघेल ने कहा कि प्रदेश में बिजली के दाम बढ़ रहे हैं। उन्होंने कहा कि जहां-जहां कांग्रेस की सरकार है, वहां मंदी का कोई असर नहीं पड़ेगा, लेकिन भाजपा सरकार में बेरोजगारी बढ़ रही है। भाजपा सरकार के पास नौजवानों को देने के लिये पैसे नहीं हैं।उप्र में में कांग्रेस का झंडा लहराएगा- प्रमोद तिवारीवहीं प्रमोद तिवारी ने कहा कि जैसे भूपेश बघेल और पीएल पुनिया ने मिलकर छत्तीसगढ़ में कांग्रेस का झंडा लहराया था। वैसे ही दोनों मिलकर यहां भी कांग्रेस को जीत दिलाएंगे। जब से प्रदेश में योगी आदित्यनाथ की सरकार आई है, तब से किसान छुट्टा जानवरों से परेशान हैं। भाजपा वाले केवल लंबी-लंबी बातें करते हैं लेकिन जमीन पर कुछ भी नजर नहीं आता।... read more @ Dainik Bhaskar
  • (0) Authenticate
  • (0)Fake
  • (0)Opinion
बाराबंकी. गोकशी के आरोप में पकड़े गए एक शख्स को बेकसूर बताते हुए कांग्रेस के राज्यसभा सांसद पीएल पुनिया बुधवार रात करीब 10 बजे जैदपुर कोतवाली पहुंच गए। उन्होंने आरोपी युवक को मुक्त करने का दबाव डाला। लेकिन पुलिस ने इंकार कर दिया। इस पर सांसद पुनिया समर्थकों संग कोतवाली परिसर में धरने पर बैठ गए। लेकिन रात तीन बजे आरोपी ने पुनिया के सामने गोकशी की बात स्वीकार कर ली। इसके बाद बैकफुट पर आए सांसद ने पुलिस पर युवक को थर्ड डिग्री देने का आरोप लगाया। डीएम व एसपी ने मामले की जांच कराए जाने की बात कही तो सांसद ने धरना खत्म किया।ये भी पढ़ेंकांग्रेस नेता पीएल पुनिया बोले- भाजपा के खिलाफ बोलने का खामियाजा भुगत रहे आजमयह है पूरा मामलादरअसल, तीन दिन पहले जैदपुर कोतवाली इलाके में गोकशी का मामला सामने आया था। जिसकी शिकायत पर पुलिस ने कोतवाली क्षेत्र के टेरा गांव निवासी शाकिर को पकड़कर थाने लाई थी। शाकिर के छोटे भाई ने सांसद पीएल पुनिया से मिलकर भाई को बेकसूर बताया। इस पर देर रात पीएल पूनिया ने थाने पहुंचकर प्रभारी निरीक्षक अमरेश सिंह बघेल से बात की। उन्होंने गिरफ्तार युवक को बेकसूर बताकर इसे विपक्षियों की साजिश बताया।मगर पुलिस ने उनकी एक न सुनी। पुलिस ने कहा कि, गोकशी के आरोप में पकड़े गए शाकिर पर मुकदमा दर्ज कर उसे जेल भेजने की कार्रवाई की जा रही है। इस दौरान पुनिया ने गिरफ्तार शाकिर से बात की तो उसने पुलिस पर थर्ड डिग्री देने की बात बताई। इस पर पुनिया समर्थकों के साथ धरने पर बैठ गए। वह गिरफ्तार युवक को थर्ड डिग्री देने वाले पुलिस कर्मियों पर केस दर्ज करने की मांग पर अड़ गए। इस बात की खबर पाकर तनुज पुनिया व सीओ सदर राजेश कुमार समेत तमाम पुलिस अधिकारी भी पहुंचे।कांग्रेस के राज्यसभा सांसद पीएल पुनिया ने बताया कि दोषी पुलिस कर्मियों पर केस दर्ज होने तक धरना जारी रहेगा। उन्होंने कहा कि एक बेकसूर को पुलिस ने थाने पर थर्ड डिग्री दी है, जो कि गलत है। पुनिया ने शाकिर को बेकसूर बताकर उसे छोड़ने और साथ ही दोषी पुलिस कर्मियों पर केस दर्ज करने की मांग की।सांसद ने तोड़ी आचार संहिताअपर जिलाधिकारी संदीप कुमार गुप्ता ने बताया कि शाकिर नाम के एक आरोपी को पुलिस ने गोकशी के आरोप में पकड़ा है। सांसद उसे बेकसूर बता रहे हैं। पूरे मामले की जांच कराई जा रही है, जो भी तथ्य सामने आएंगे उसके मुताबिक कार्रवाई की जाएगी। साथ ही एडीएम ने कहा कि आचार संहिता लागू होने के बाद भी इतनी संख्या में लोग थाने पर इकट्ठा बैठे, इस मामले में भी प्रशासन कार्रवाई करेगा।... read more @ Dainik Bhaskar
  • (0) Authenticate
  • (0)Fake
  • (0)Opinion
बाराबंकी. शहर कोतवाली इलाके के बेगमगंज मोहल्ले में बच्चा चोरी के आरोप में लोगों ने एक युवक को पीट दिया। बताया जा रहा है कि, मजदूरी करके वापस गांव जा रहे युवक के पीछे अचानक एक बच्चा भटककर पीछे-पीछे चलने लगा। लोगों ने युवक को बच्चा चोर समझ लिया। लोगों ने एकजुट होकर युवक को पीट दिया। युवक दुहाई देता रहा, मगर उसकी किसी ने एक न सुनी। जब पुलिस ने छानबीन की तो पूरा मामला कोरी अफवाह निकला।ये भी पढ़ेंअस्पताल से आठ माह का बच्चा चोरी, पुलिस ने डेढ़ घंटे में किया बरामद, आरोपी महिला गिरफ्तारसीतापुर के दिलशाद अपनी पत्नी और तीन साल के बच्चे हम्मार के साथ अपने रिश्तेदार अल्ताफ के यहां आए हुए थे। दिलशाद ने बताया कि शाम को वह परिवार सहित वापस सीतापुर लौट रहे थे। वह रिश्तेदारों के साथ बात कर रहे थे। इसी बीच उसके पास खेल रहा हम्मार लापता हो गया। आसपास वह नहीं दिखाई दिया। इस पर उसकी तलाश शुरू की गई। तभी कुछ ही देर में बेगमगंज की सड़क पर बच्चा चोर की बात फैल गई। लोगों ने एक बच्चे को एक युवक के साथ जाते हुए देखा। दौड़ कर लोग उसके पास पहुंचे। देखा तो वह हम्मार था।इस पर लोगों ने युवक को पकड़ लिया। पिटाई के बाद उसे पुलिस के हवाले कर दिया। स्थानीय लोगों ने बताया कि हम्मार पकड़े गए युवक के साथ पैदल जा रहा था। इसलिए उन लोगों ने उसे बच्चा चोर समझ लिया और पिटाई कर दी। बच्चे के पिता दिलशाद ने पुलिस को मामले की तहरीर दी है। वहीं बच्चा चोरी के आरोप में पकड़े गए युवक ने बताया कि उसका नाम प्रमोद है और कोठी थाना के कलापुर गांव का निवासी है। मजदूरी करने के बाद वह घर वापस लौट रहा था।अपर पुलिस अधीक्षक आरएस गौतम ने बताया कि यह बच्चा चोरी की कोई वारदात नहीं है। सिर्फ अफवाह थी। जिसे बच्चा चोर समझा गया वह काफी गरीब और सीधा साधा है। जिन लोगों ने बच्चा चोर की इस तरह अफवाह फैलाई है, पुलिस उनकी पहचान करने में लगी है। जल्द ही उन्हें पकड़कर उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।... read more @ Dainik Bhaskar
  • (0) Authenticate
  • (0)Fake
  • (0)Opinion

Loading posts...
End
∅ Error while loading more posts!
Success !
Success !
Or